पार्थ चटर्जी और अर्पिता की रिलेशनशिप पर चौंकाने वाला खुलासा दोनों के बीच यह है रिश्ता

पार्थ चटर्जी और अर्पिता की रिलेशनशिप पर चौंकाने वाला खुलासा दोनों के बीच यह है रिश्ता

ED ने अर्पिता के दो फ्लैटों से ₹50 करोड़ बरामद किए थे।

ED के सूत्रों के मुताबिक पार्थ और अर्पिता के दोनों का दावा और कि पैसा उनका नहीं है।

पश्चिम बंगाल के शिक्षक भर्ती घोटाले से पर्दा उठने के बाद पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी और उनके करीबी मुखिया अर्पिता की मुश्किलें बढ़ती जा रही है।दोनों के बारे में केंद्रीय जांच एजेंसी नए-नए खुलासे कर रही है।पार्थ और अर्पिता 5 अगस्त तक दोनों ED के हिरासत में रहेंगे।ED विशेष अदालत ने 5 अगस्त तक दोनों को हिरासत में रखने की इजाजत दी है।इस बीच दोनों के रिलेशनशिप में चौका देने वाले खुलासे हुए हैं।अर्पिता के नाम 31 लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी है और उसमें नॉमिनी नेम पार्थ चटर्जी का है।

अर्पिता-पार्थ का संबंध काफी पुराना है।

ईडी ने आज बुधवार कोर्ट को पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी के जॉइंट कंपनी के बारे में सूचना दी।APA utility services नाम की है कंपनी 1 नवंबर 2012 को रजिस्टर्ड हुई थी।ईडी ने कोर्ट को बताया कि ज्वाइंट प्रॉपर्टी के मुताबिक अर्पिता और पार्थ का संबंध काफी पुराना है।

अर्पिता की 31 लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी के नॉमिनी पार्थ चटर्जी।

ईडी के 10 दिन की हिरासत के बाद अर्पिता और पार्थ चटर्जी को कोर्ट में फिर से पेश किया गया।सुनवाई के दौरान ईडी ने दावा किया कि अर्पिता कि 31 जीवन बीमा पॉलिसी में नॉमिनी पार्थ चटर्जी है।

ED की जांच जारी।

ईडी ने अर्पिता के दो फ्लैटों से ₹50 करोड़ बरामद किए थे।ईडी के सूत्रों के मुताबिक पार्थ और अर्पिता का दावा है कि यह पैसा उनका नहीं है।अगर ऐसा नहीं है तो जांच करता अधिकारियों को असमंजस है कि यह पैसा किसका है?जांच के दौरान उन्होंने पर्थ और पिता के नाम के कई संगठनों के घरों की तलाशी ली और उनसे कुछ दस्तावेज बरामद किए।