ड्राइविंग करते समय मोबाइल उपयोग करने पर पुलिस नहीं कटेगी। चालान जानिए क्या है नियम?

ड्राइविंग करते समय मोबाइल उपयोग करने पर पुलिस नहीं कटेगी। चालान जानिए क्या है नियम?
ड्राइविंग करते समय मोबाइल उपयोग करने पर पुलिस नहीं कटेगी। चालान जानिए क्या है नियम

आपकी लाइफ में किसी पॉइंट पर आपको ट्रैफिक रूल से नफरत जरूर हुई होगी। खासकर जब आपको फाइन देना पड़ा है ट्रैफिक रूल सुरक्षा कारक को बढ़ाने और जिम्मेदारी और सुरक्षित ड्राइविंग को बढ़ावा देने के लिए।यदि ट्रैफिक रूल नहीं होते तो सड़क हादसों का खतरा बहुत ज्यादा होता। पिछले सालों में मोटर वाहन नियमों में कई बदलाव किए गए हैं और जब कि हम सभी बेसिक ट्रेफिक रूल्स के बारे में ही जानते हैं।हेलमेट पहनना कार चलाते समय सीट बेल्ट लगाना हर कोई सभी इन नियमों को जानता है।अगर आप बेसिक ट्रेफिक रूल्स के बारे में नहीं जानते तो आज हम कुछ जरूरी रूल्स के बारे में बताते हैं जो आपको उल्लंघन करने पर परेशानी में डाल सकते हैं।

यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जिसके पास दो ड्राइविंग लाइसेंस हैं तो यातायात पुलिस द्वारा फाइन किया जा सकता है। अक्टूबर 2019 से केंद्र सरकार ने अनिवार्य किया है।भारत के सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा जारी किए गए DL और RC डिजाइन और रंग को समान होने चाहिए। यह नियम भी बनाया गया।आपके पास एक ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए। अगर ड्राइविंग लाइसेंस खत्म हो रहा है तो इससे समय रहते हुए रिन्यू करवाना चाहिए।

एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड जैसे आपातकालीन वाहनों को रास्ता देना एक अच्छे नागरिक और जिम्मेदारी के काम के रूप में देखा जाता है।उनको रास्ता ना देना भी एक ट्रैफिक रूल का उल्लंघन करना है।अगर आप इमरजेंसी वाहन को रास्ता नहीं देते हैं तो फिर रास्ते का अवरोधन करने का दोषी पाया जाता है तो आपको ₹10000 तक का जुर्माना या 6 महीने की सजा हो सकती है।

मोटर वाहन नियम में बदलाव ने ड्राइविंग के दौरान मोबाइल फोन या अन्य हाथ से चलाने वाली डिवाइस के उपयोग की भी साफ किया गया है।नए नियमों के अनुसार एक ड्राइवर को केवल नेविगेशन के लिए एक मोबाइल प्रयोग करना चाहिए।गड्डी चलाते समय फोन पर बात करते हुए आपको ₹5000 का जुर्माना लग सकता है।