हरियाणा के 2 जिलों में धारा 144 लागू प्रशासन ने जारी किए सख्त ऑर्डर

लंपी वायरस के संपर्क में आने वाले मवेशियों की त्वचा पर गांठ बन जाती है और उनके मुंह से लार आने लगती है। उनको तेज बुखार होता है और आंखें लाल हो जाती है। साथ ही उन्हें भूख भी कम लगने लगती है।जिला प्रशासन ने मवेशियों के संक्रमण से बचाने के लिए गौशालाओं में Fogging करने के आदेश दिए हैं।

हरियाणा के 2 जिलों में धारा 144 लागू प्रशासन ने जारी किए सख्त ऑर्डर
हरियाणा के 2 जिलों में धारा 144 लागू प्रशासन ने जारी किए सख्त ऑर्डर

जींद देश में दिन प्रतिदिन नई-नई बीमारियों के संक्रमण ने लोगों की चिंता बढ़ा रखी है। पहले इंसानों में करोना वायरस और मंकीपॉक्स वायरस ने कहर ढा रखा था।वहीं अब एक नया वायरल जो कि पशुओं में तेजी से फैल रहा है। इस वायरल का नाम लंपी वायरस जिसमें पशु को अपने संक्रमण में जकड़ रखा है। फिलहाल जींद में 358 पशु लंपी वायरस से ग्रस्त हैं।

जींद और सोनीपत जिले में धारा 144 लागू।

हरियाणा के जींद और सोनीपत जिले में पशुओं में फैल रही लंपी वायरस को ध्यान में रखते हुए IPC की धारा 144 के तहत लागू कर दी गई है। इस धारा के तहत पशुओं का मेला लगाने और इस बीमारी से मरने वाली पशुओं की चमड़ी उतारने बाहर से मवेशियों को चराने के लिए आने वाले को गवालो के आगमन पर पूर्णता रोक लगा दी गई है।

मवेशियों में होने वाले लक्षण।

लंपी वायरस के संपर्क में आने वाले मवेशियों की त्वचा पर गांठ बन जाती है और उनके मुंह से लार आने लगती है। उनको तेज बुखार होता है और आंखें लाल हो जाती है। साथ ही उन्हें भूख भी कम लगने लगती है।जिला प्रशासन ने मवेशियों के संक्रमण से बचाने के लिए गौशालाओं में Fogging करने के आदेश दिए हैं।

14 जिलों में मवेशी लंपी वायरस से ग्रस्त।

हरियाणा के पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश के लगभग 14 जिलों में मवेशी लंपी वायरस से ग्रस्त हो गए हैं।प्रदेश सरकार पशुओं को लंबी वायरस से बचाने के लिए संभावित रूप से टीकाकरण का आयोजन करेगी। दुखदायक बात यह है कि अब तक प्रदेश में कुल 87 गायों की इस वायरस के संक्रमण से मौत हो चुकी है।